भाजपा सरकार और कांग्रेस की परंपरा

भाजपा कांग्रेस से किस बात में अलग है? वह कांग्रेस व संयुक्त मोर्चा की “मानव चेहरे के साथ उदारीकरण” की नीति की आलोचना करती है, परन्तु खुद “स्वदेशी चेहरे केसाथ निजीकरण व उदारीकरण” की हिमायत करती है। वह धर्मनिरपेक्षतावाद का मंत्र पढ़ते हुये धर्म के आधार पर लोगों को बांटने की कांग्रेस की झूठी धर्मनिरपेक्षता की परम्परा की आलोचना करती है। पर भाजपा हिन्दु राष्ट्रवाद का मंत्र पढ़ते हुये अपने ही तरीके से धर्म के आधार पर लोगों को बांटने की नीति अपना रही है। विचारधारात्मक क्षेत्र में भाजपा का यह दावा है कि वे नेहरू व उनके वारिसों की इंडियन नैशनल कांग्रेस की यूरोपीय परम्पराओं से नाता तोड़ेंगे। लेकिन कैसे, यह नहीं बताया गया है।

आगे पढ़ें

बाधाओं को हटाकर एकता बनायें

बाधाओं को हटाकर एकता बनायेंप्रथम प्रकाशन मार्च 1998

यह दस्तावेज़ 24-25 जनवरी 1998 को हिन्दोस्तान की कम्युनिस्ट ग़दर पार्टी की केन्द्रीय कमेटी की विस्तृत परिपूर्ण सभा में हुई बातचीत का नतीजा है। इसमें, मजदूर वर्ग आन्दोलन के वस्तुगत और आत्मगत हालातों के बारे में और इन हालातों के विश्लेषण के आधार पर हिन्दोस्तान की कम्युनिस्ट ग़दर पार्टी की कार्य योजना पर दो दस्तावेज़ चर्चा के लिये पेश किये गये हैं। विस्तृत परिपूर्ण सभा इनसे सहमत थी, हिन्दोस्तान की कम्युनिस्ट ग़दर पार्टी की केन्द्रीय कमेटी के फैसले के अनुसार अब इन्हें चर्चा के लिये प्रकाशित किया जा रहा है।

पी.डी.एफ. डाउनलोड करनें के लिये चित्र पर क्लिक करें

आगे पढ़ें
बाधाओं को हटाकर एकता बनायें

बाधाओं को हटाकर एकता बनायें

बाधाओं को हटाकर एकता बनायें24-25 जनवरी, 1998 को नई दिल्ली में हिन्दोस्तान की कम्युनिस्ट ग़दर पार्टी की केन्द्रीय कमेटी की विस्तृत परिपूर्ण सभा में महा सचिव कामरेड लाल सिंह द्वारा पेश की गई ड्राफ़्ट रिपोर्ट.

(PDF दस्तावेज को डाउनलोड करने के लिए कवर चित्र पर क्लिक करें)

आगे पढ़ें

thumbnail

किस प्रकार की पार्टी?

प्रथम संस्करण फ़रवरी 1994, दूसरा संस्करण दिसंबर 2016

इस दस्तावेज़ “किस प्रकार की पार्टी” को, कामरेड लाल सिंह ने हिन्दोस्तान की कम्युनिस्ट ग़दर पार्टी की केन्द्रीय कमेटी की ओर से 29-30 दिसम्बर, 1993 में हुई दूसरी राष्ट्रीय सलाहकार गोष्ठी में पेश किया था।

पी.डी.एफ. डाउनलोड करनें के लिये चित्र पर क्लिक करें

आगे पढ़ें
An appeal to all women and men of conscience

सभी ज़मीर वाले देशवासियों को एक अपील

प्रकाशन जानकारी
नोट्स
apeal
  • वर्ष : फरवरी १९९३
  • प्रकाशक: —
  • भाषा: अंग्रेजी, हिंदी, पंजाबी
  • माध्यम: मुद्रित
  • कीमत : —
  • PDF_File.png

सभी ज़मीर वाले देशवासियों को एक अपील

यह सभी ज़मीर वाले देशवासियों को एक अपील है, जो हमारे देश की प्रमुख राजनितिक पार्टियों द्वारा फैलाई गयी हिंसां और लूटमार से विचलित है. यह उन सभी भाइयों और बहनों को एल अपील है जो देश के आर्थिक पुनर्निर्माण की दिशा के बारे में काफी चिंतित है. यह उन सभी व्यक्तियों को एल अपील है जो हिन्दोस्तान के सामने गंभीर समस्याओं का एक स्थायी समाधान ढूंड रहे है, एक ऐसा समाधान जो हमारे लोगो के पक्ष में हो.

आगे पढ़ें