ऑपरेशन ब्लूस्टार की 40वीं बरसी :
राजकीय आतंकवाद का घिनावना कांड जिसे न भुलाया जा सकता, न माफ़ किया जा सकता

हिन्दोस्तान की कम्युनिस्ट ग़दर पार्टी की केंद्रीय समिति का बयान, 2 जून, 2024
हमें राज्य के हर उस क़दम का विरोध करना चाहिए जो किसी के ज़मीर के अधिकार का हनन करता है। एक पर हमला सब पर हमला है! यह हमारे संघर्ष के लिए एक अनिवार्य मार्गदर्शक है।

आगे पढ़ें
ICJ_judgment


इज़रायल द्वारा आई.सी.जे. और विश्व जनमत की घोर अवमानना

24 मई को संयुक्त राष्ट्र के अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय आई.सी.जे. ने इज़रायल को रफ़ाह पर उसके हमले को तुरंत रोकने का आदेश जारी किया। यह आदेश इज़रायल द्वारा 7 मई से रफ़ाह पर शुरू किये गये सबसे हालिया सैन्य आक्रमण के बाद आया है।

आगे पढ़ें


काम की अन्यायपूर्ण हालतों के खि़लाफ़ रेल चालकों के सफल संघर्ष!

भारतीय रेल के सभी जोनों में रेल चालकों की भारी कमी है। प्रबंधन सभी खाली पदों को भरने से इंकार कर रहा है। इसके विपरीत प्रबंधन, मौजूदा रेल चालकों जो कि कम संख्या में हैं, उन्हीं से अधिक से अधिक संख्या में माल गाड़ियां और सवारी गाड़ियां चलवाने के लिए असुरक्षित तरीक़ों का सहारा ले रहा है। इससे रेल चालकों का कार्यभार भी बढ़ रहा है। उनका वर्तमान कार्यभार रेलवे के अपने कार्य घंटों के मानदंडों से पहले ही बहुत ज्यादा है।

आगे पढ़ें


स्मार्ट बिजली मीटर के खि़लाफ़ 46 संगठन – फेडरेशनें, मज़दूर यूनियनें और जन संगठन एकजुट हुए

कामगार एकता कमेटी के संवाददाता की रिपोर्ट
सिर पर खड़े इस हमले के बारे में लोगों को जागरुक करने के लिए मज़दूरों, किसानों और लोगों के 46 संगठनों ने एक साथ मिलकर, हिंदी और अंग्रेज़ी में एक पुस्तिका प्रकाशित की है। इस पुस्तिका का नाम है –  “मज़दूर-विरोधी, जन-विरोधी प्रीपेड स्मार्ट बिजली मीटर का एकजुट होकर विरोध करें”। यह पुस्तिका जल्द ही मराठी में भी प्रकाशित होगी।

आगे पढ़ें


डोंबिवली केमिकल फैक्ट्री में भयानक विस्फोट

इन विस्फोटों में कम से कम 10 मज़दूरों की जानें चली गईं। 60 से अधिक लोग घायल हो गए, जिनमें से 12 की हालत गंभीर है और उन्हें आईसीयू में भर्ती कराया गया है। हाल के वर्षों में, इस क्षेत्र में हुई सबसे विनाशकारी औद्योगिक दुर्घटनाओं में से यह एक है।

आगे पढ़ें


अस्पताल में आग लगने से सात नवजात शिशुओं की मौत

26 मई, 2024 की सुबह पूर्वी दिल्ली के विवेक विहार में न्यू बोर्न बेबी केयर हॉस्पिटल नामक बच्चों के अस्पताल में भीषण आग लग गई। ख़बरों के मुताबिक इस त्रासदी में कम से कम सात नवजात शिशुओं की मौत हो गई। हिन्दोस्तान कम्युनिस्ट ग़दर पार्टी पीड़ितों के परिवारों के प्रति अपनी हार्दिक शोक संवेदना व्यक्त करती है।

आगे पढ़ें


राजकोट गेम जोन में आग लगने से 33 लोगों की मौत

25 मई, 2024 की शाम को गुजरात के राजकोट में टीआरपी गेम जोन में लगी आग में कम से कम नौ बच्चों सहित 33 लोगों के जिंदा जलने की सूचना है। कई अन्य के घायल होने की सूचना है। हिन्दोस्तान की कम्युनिस्ट ग़दर पार्टी पीड़ितों के परिवारों के प्रति अपनी हार्दिक शोक संवेदना व्यक्त करती है।

आगे पढ़ें

चुनावी बांड का किस्सा :
पूंजीपति वर्ग कैसे अपनी हुक्मशाही चलाता है

चुनावी बांड पर प्रतिबंध लगाने का सुप्रीम कोर्ट का फ़ैसला, चुनाव अभियानों के लिए पूंजीपतियों द्वारा धन दिए जाने और सरकारों पर सरमायदारों के नियंत्रण के केवल एक तरीके़ को रोकने वाला है। हिन्दोस्तानी राज्य पर सरमायदारों का प्रभुत्व अन्य तरीक़ों से क़ायम रहेगा।

आगे पढ़ें


लोकसभा चुनाव 2024: पेंशन हमारा अधिकार

मज़दूर एकता कमेटी के संवाददाता की रिपोर्ट
लोकसभा चुनाव 2024 के लिए चल रहे प्रचार अभियान के संदर्भ में पेंशन का अधिकार एक ज्वलंत मुद्दा है। मज़दूर एकता कमेटी (एम.ई.सी.) इन आंदोलनों के हिस्से के रूप में पेंशन के अधिकार के लिए सक्रिय रूप से अभियान चला रही है। इस अभियान के तहत, एम.ई.सी. ने 12 मई, 2024 को “पेंशन हमारा अधिकार है” विषय पर एक मीटिंग आयोजित की।

आगे पढ़ें


मणिपुर की अनंत त्रासदी

पिछले एक साल की घटनाओं ने वास्तव में इस बात की पुष्टि की है कि केंद्र और राज्य सरकारों ने एक-दूसरे के साथ मिलकर काम किया है। लेकिन उन्होंने अराजकता और हिंसा को ख़त्म करने के उद्देश्य से नहीं, बल्कि इसे और बढ़ावा देने के उद्देश्य से सहयोग किया है।

आगे पढ़ें