ओडिसा में बढ़ते राजकीय आतंक की निंदा करें!

मजदूर एकता लहर बड़े गुस्से के साथ हिन्दोस्तानी राज्य की निंदा करती है, जो सबसे बड़े पूंजीवादी समूहों की खनन परियोजनाओं के खिलाफ़ लोगों के विरोध को कुचलने के लिए ओडिसा के विभिन्न इलाकों में कार्यकर्ताओं की सुनियोजित ढंग से हत्या करवा रहा है।

श्रीकृष्ण समिति ने तेलंगाना पर रिपोर्ट पेश की : लोगों को जानबूझकर भड़काने की कोशिश की निंदा करें!

तेलंगाना के विषय पर बिठाई गई श्रीकृष्ण समिति ने 30 दिसम्बर, 2010 को केन्द्रीय सरकार को अपनी रिपोर्ट पेश की। रिपोर्ट में समस्या को हल करने के 6 विकल्प दिये गये हैं। एक प्रस्ताव को ”सबसे पसंद प्रस्ताव” बताया गया है और दूसरे प्रस्ताव पर इसके बाद विचार किया जायेगा। बाकी चार विकल्पों के बारे में समिति ने खुद ही कहा है कि इन्हें अमल में नहीं लाया जा सकता। श्रीकृष्ण समिति को संप

आगे पढ़ें

श्रमिकों ने सरकार को अपनी ताकत दिखाई

17 दिसम्बर, 2010 को हरियाणा के जिला सिरसा में, राजकीय अध्यापक संघ की अगुवाई में, सैकड़ों अध्यापकों ने अनुबंधित अध्यापकों को नियमित करने की मांग को लेक

आगे पढ़ें

चीनी प्रधानमंत्री की हिन्दोस्तान यात्रा

चीनी प्रधानमंत्री वेन जियाबाओ की हाल की हिन्दोस्तान यात्रा के दौरान समाचार माध्यम की प्रतिक्रिया में मुख्य तौर पर वे दो विचार आगे रखे गये जिनका हिन्दोस्तानी राज्य प्रचार करना चाहता था – कि चीन एक महाशक्ति है और एक प्रतिस्पर्धी भी। आगे पढ़ें