अंबुर, तमिलनाडु के मज़दूरों ने अपने अधिकारों के लिए आवाज़ उठाई

तमिलनाडु ट्रेड यूनियन सेंटर ने 7 मई, 2022 को अंबुर में एक प्रदर्शन किया। अंबुर और उसके आसपास की कंपनियों में चमड़ा, जूता और संबंधित वस्तुओं को बनाने का काम करने वाले सैकड़ों मज़दूरों ने इस प्रदर्शन में भाग लिया। इस मौके पर यूनियन ने मई दिवस भी मनाया। कॉमरेड दक्षिणमूर्ति ने जनसभा की अध्यक्षता और संचालन किया।

आगे पढ़ें

भीषण अग्निकांड में मज़दूरों की मौत :
आदमखोर पूंजीवादी व्यवस्था इसके लिये ज़िम्मेदार

पश्चिमी दि‍ल्‍ली के मुंडका मेट्रो स्टेशन के निकट स्थित एक फैक्ट्री में 13 मई, 2022 के दोपहर को एक भयानाक अग्निकांड में बड़ी संख्या में मजदूरों की मौत हो गयी तथा सैकड़ों मज़दूर घायल हुए।

आगे पढ़ें

मुंडका अग्निकांड के खिलाफ दिल्ली के मजदूरों के विरोध प्रदर्शन
मजदूरों ने श्रम मंत्री को चेतावनी दी

दिल्ली के ट्रेड यूनियनों के संयुक्त मंच की अगुवाई में, 17 मई की सुबह को, दिल्ली के श्रम मंत्री के आवास पर एक ज़ोरदार विरोध प्रदर्शन आयोजित किया गया।

आगे पढ़ें
400_Left Party LG Office Demo


दिल्ली में सरकार के बुलडोजर अभियान का ज़बरदस्त विरोध

मज़दूरों-मेहनतकशों को शोषण और दमन के ख़िलाफ़ एकजुट होकर संघर्ष करने के रास्ते से भटकाने के लिए, हुक्मरान धर्म के आधार पर नफ़रत फैलाने और लोगों को भड़काने की पूरी कोशिश करते रहते हैं।

आगे पढ़ें
Chennai_MayDay

मई दिवस 2022 :
वी.एच.एस. हस्पताल के मज़दूरों ने भाईचारा बनाने की शपत ली

चन्नई शहर और आसपास के औद्योगिक इलाकों में मज़दूरों ने जोश के साथ अपनी फैक्ट्रियों के फाटकों पर लाल झंडे फहराये और मई दिवस की रैलियां व सभाएं कीं।

आगे पढ़ें
Ambikapur


मई दिवस पर सभी देशों के मज़दूरों ने अपना गुस्सा प्रकट किया

1 मई, 2022 को पूरी दुनिया में मज़दूरों ने विरोध मार्च और रैलियां कीं जो कि पूंजीवाद और पूंजीपति वर्ग के शासन के ख़िलाफ़ अपने अधिकारों के लिए संघर्ष में अंतर्राष्ट्रीय सर्वहारा वर्ग की एकता का प्रतीक है। तुर्की सहित कुछ देशों में सशस्त्र पुलिस के साथ संघर्ष हुआ।

आगे पढ़ें


मज़दूरों और किसानों के शोषण को ख़त्म करने के लिए संघर्ष को आगे बढाएं!

हिन्दोस्तान की कम्युनिस्ट ग़दर पार्टी की केन्द्रीय समिति का बयान, मई दिवस, 2022

मज़दूर साथियों,

आज मई दिवस है, सभी देशों के मज़दूरों के लिए जश्न मनाने का दिवस है। हमारे देश के कोने-कोने में मज़दूर जुझारू रैलियों, मीटिगों और जुलूसों में हिस्सा ले रहे हैं। हम अब तक हासिल हुई जीतों पर खुशियां मना रहे हैं और अपनी असफलताओं से सबक लेकर, उन पर चर्चा कर रहे हैं।

आगे पढ़ें

हिन्दोस्तान और अमरीका के बीच 2+2 वार्ता
अमरीकी साम्राज्यवाद ने, हिन्दोस्तान पर अपने भू-राजनीतिक उद्देश्यों के साथ कदम से कदम मिलाने के लिए दबाव बढ़ाया

हिन्दोस्तान और अमरीका के बीच ‘‘2+2 वार्ता’’ का चौथा दौर 10 से 15 अप्रैल के बीच हुआ। 2+2 वार्ता में, हिन्दोस्तान के विदेश मंत्री और रक्षा मंत्री की अमरीका के सेक्रेटरी ऑफ स्टेट और रक्षा सचिव की एक साथ बैठकें शामिल हैं। इनका मकसद है कि दोनों राज्यों की विदेश और सैन्य नीतियों में नज़दीकी से समन्वय हो।

आगे पढ़ें
_Bhagatanwala_anaj_mandi


किसान संगठनों का अपनी मांगों को लेकर संघर्ष जारी

केंद्र सरकार द्वारा तीन किसान विरोधी कानूनों को वापस लेने के बाद, किसानों ने दिल्ली की सीमाओं पर किसान आंदोलन के विरोध को स्थगित कर दिया था। आन्दोलन स्थगन के चार महीने बाद, पंजाब, हरियाणा और अन्य राज्यों में किसान संगठन संघर्ष जारी रखने के लिए सक्रिय रूप से लोगों को लामबंद कर रहे हैं।

आगे पढ़ें

राज्य द्वारा आयोजित सांप्रदायिक हिंसा :
लोगों को बाँटने और अपनी हुकूमत को मज़बूत करने का हुक्मरान वर्ग का पसंदीदा तरीका

राज्य द्वारा आयोजित सांप्रदायिक हिंसा का शिकार न सिर्फ वे लोग होते हैं जिन्हें निशाना बनाया जाता है। बल्कि इस हिंसा का शिकार संपूर्ण मज़दूर वर्ग और सभी मेहनतकश लोग हैं, शोषकों और दमनकारियों के ख़िलाफ़ संघर्ष में लोगों की एकता है।

आगे पढ़ें