राशन कार्ड की मांग को लेकर एक दिवसीय धरना

17 फरवरी, 2010 को लोक राज संगठन की दिल्ली परिषद की अगुवाई में, गरीबी रेखा के नीचे रहने वालों के लिए बीपीएल राशन कार्ड बनाने की मांग को लेकर दिल्ली सार्वजनिक खाद्य वितरण विभाग के मुख्यालय के समक्ष एक दिवसीय धरना दिया गया।

17 फरवरी, 2010 को लोक राज संगठन की दिल्ली परिषद की अगुवाई में, गरीबी रेखा के नीचे रहने वालों के लिए बीपीएल राशन कार्ड बनाने की मांग को लेकर दिल्ली सार्वजनिक खाद्य वितरण विभाग के मुख्यालय के समक्ष एक दिवसीय धरना दिया गया।

विदित है कि 2007 में सार्वजनिक खाद्य वितरण विभाग के द्वारा दिल्ली में गरीबी रेखा के नीचे रहने वाले लोग, जिनके पास बीपीएल कार्ड थे, उनके नवीनीकरण की विज्ञप्ति जारी की गयी थी। इस नवीनीकरण के तहत, सभी बीपीएल कार्डधारियों को अपना पुराना कार्ड तथा नये कार्ड के जारी हेतु फार्म जमा करना था। 3 साल हो चुके हैं, अभी सिर्फ 50 प्रतिशत बी.पी.एल. कार्ड जारी हुये हैं। जबकि विभाग के नियमों के अनुसार, नये या नवीनीकरण हेतु आवेदन की जांच करके एक महीने में कार्ड जारी करना होता है। अगस्त 2009 से सभी बी.पी.एल. कार्ड धारियों का राशन बंद हो गया है, क्योंकि उनको अभी भी राशन कार्ड मिला रही है। जो कार्ड नवीनीकरण हेतु पहले जमा कर चुके थे, उन्हें इससे पहले तक पर्ची के आधार पर राशन मिलता था। गरीबी रेखा के नीचे रहने वाले हजारों-हजारों लोग, अपने राशन कार्ड को पाने के लिए अपने क्षेत्र के मंडल अधिकारियों से न जाने कितनी बार मिल चुके हैं।

इस धरने में, ओखला औद्योगिक क्षेत्र में स्थित संजय कालोनी, न्यू संजय कैंप तथा गोला कुंआ की लोक राज समितियों से आये मेहनतकष स्त्री, पुरुष और नौजवान बड़ी संख्या में षामिल हुए। इसके अलावा, जहांगीरपुरी, गोकुलपुरी, मंगोलपुरी, गोविन्दपुरी, बुराड़ी आदि इलाकों में रहने वाले लोगों ने भी इस धरने में उत्साह के साथ हिस्सा लिया।

धरने में शामिल लोगों ने अपने हाथों में प्लाकार्ड लिये हुए थे। उन प्लाकार्डों पर नारे इस प्रकार थे – ‘सार्वजनिक खाद्य वितरण विभाग मुर्दाबाद!’, ‘खाद्य सुरक्षा हर हिन्दोस्तानी का जन्मसिद्ध अधिकार है!’, ‘राशन कार्ड वापस दो!’, ‘शीला तेरे राज में कार्ड मिलेगा कितने साल में?’ ‘लोगों का खून चूसना बंद करो!’, आदि।

लोक राज संगठन के दिल्ली परिषद के सचिव बिरजू नायक ने धरने को संबोधित करते हुए बताया कि, लोक राज संगठन, दिल्ली सहित पूरे देश में लोगों की खाद्य सुरक्षा के अधिकार को सुनिश्चित करने की मांग कर रहा है। इस मांग को लेकर पिछले साल 28 जुलाई को भी एक जोरदार प्रदर्षन किया गया था।

उन्होंने बताया कि खासकर, दिल्ली की गरीबी रेखा के नीचे रहने वाले लोगों के लिए, राशन कार्ड का महत्व और भी बढ़ गया है, जब से महंगाई बगैर किसी अंकुश के बढ़ रही है।

उन्होंने समझाया कि, वर्तमान व्यवस्था, महज कुछ लोगों की इच्छापूर्ति का साधन है, जिसे सरमायदारी राजनीतिक दलों की सहायता से पूरा किया जाता है। इस व्यवस्था से हम बहुसंख्यक लोग यह उम्मीद नहीं कर सकते हैं, कि यह हमारे संकट का समाधान करेगा। लोक राज संगठन, इस व्यवस्था का विकल्प पेश करता है –  लोक राज अर्थात लोगों के हाथ में सत्ता।

अन्य वक्ताओं में थे लोकेश कुमार, संजय कालोनी लोक राज समिति से।

धरने के अंत में, चार सदस्यों के एक प्रतिनिधिमंडल ने सार्वजनिक खाद्य वितरण विभाग के सह-सचिव से मिलकर एक ज्ञापन सौंपा। उन्होंने आश्वासन दिया कि वे 15 दिन के अंदर, जिन लोगों ने बीपीएल कार्ड के लिए आवेदन किया था, उन्हें कार्ड जारी करेंगे।

प्रतिनिधिमंडल ने वापस आकर, धरने को संबोधित करते हुए कहा कि यदि सार्वजनिक खाद्य वितरण विभाग 15 दिन के अंदर सकारात्मक कार्यवाही नहीं करता तो लोक राज संगठन आंदोलन को आगे ले जायेगा।

Share and Enjoy !

Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *