कोल इंडिया के मज़दूर संघर्ष की तैयारी कर रहे हैं

Employees_Central_Coalfields_participate_in_3day_coal_strike_outside_Raj_Bhawan_Ranchi
ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड के मज़दूर संघर्ष की तैयारी में (फ़ाइल फोटो)

हिन्दोस्तान की सरकार ने प्रस्ताव किया है कि 160 भूमिगत ख़दानों को राष्ट्रीय मुद्रीकरण नीति के तहत, निजी कंपनियों को सौंप दिया जायेगा।

इसके साथ ही, सरकार ने ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (ई.सी.एल.), भारत कोकिंग कोल लिमिटेड (बी.सी.सी.एल.) और सी.एम.पी.डी.आई. के 25 प्रतिशत शेयर बेचने के अपने फैसले की घोषणा की है। इसके अलावा, सरकार ने सी.एम.पी.डी.आई. को एम.ई.सी.एल. के साथ विलय करने के अपने इरादे की घोषणा की है।

कोल इंडिया लिमिटेड (सी.आई.एल.) के मजदूर इस प्रस्ताव पर बहुत क्रोधित हैं और इसका विरोध करने पर डटे हुए हैं ।

Share and Enjoy !

Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published.