बिजली (संशोधन) विधेयक 2022 के विरोध में राष्ट्रव्यापी आन्दोलन का ऐलान

Electricity_workers_protest

ऑल इंडिया पावर इंजीनियर्स फेडरेशन ने केंद्रीय विद्युत मंत्री को पत्र लिखकर यह मांग की है कि केंद्र सरकार द्वारा हाल ही में जारी किए गए बिजली (संशोधन) विधेयक 2022 के मसौदे पर, बिजली उपभोक्ताओं और बिजली कर्मियों से विस्तृत बात किए बिना, इस बिल को संसद के मानसून सत्र में पेश न किया जाये। इसके साथ-साथ, उन्होंने सभी राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों को भी पत्र भेजकर यह अपील की है कि बिजली उपभोक्ताओं और बिजली कर्मियों के लिए दूरगामी दुष्परिणाम लाने वाले इस संशोधन विधेयक को संसद में पारित होने से रोकने के लिए वे प्रभावी कदम उठाएं। इस बिल के विरोध में राष्ट्रव्यापी आन्दोलन का ऐलान करते हुए, दिल्ली में आगामी 20 जुलाई को नेशनल कोऑर्डिनेशन कमेटी ऑफ इलेक्ट्रीसिटी इम्प्लॉइज एंड इंजीनियर्स की बैठक होने वाली है।

इलेक्ट्रिसिटी (अमेंडमेंट) बिल 2022 को सम्पूर्ण बिजली वितरण के निजीकरण का मसौदा बताते हुए, ऑल इंडिया पावर इंजीनियर्स फेडरेशन ने ऐलान किया है कि बिजली कर्मी इसका पुरजोर विरोध करेंगे।

Share and Enjoy !

Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published.