बेहतर वेतन और सुरक्षित नौकरी के लिये ब्रिटेन के रेल मज़दूरों की विशाल हड़ताल

पिछले 30 वर्षों में 21 जून को ब्रिटेन के रेल मज़दूरों की सबसे बड़ी हड़ताल देखी गई। वेतन वृद्धि और सुरक्षित नौकरियों की अपनी मांग के समर्थन में दसों हजार रेल मज़दूरों ने काम करने से इंकार कर दिया।

400_UK_Railहड़ताल कर रहे 40,000 से अधिक रेल मज़दूरों की पिकेट लाइनें सुबह से ही दिखाई देने लगीं, जिसके कारण ब्रिटेन का पूरा रेल नेटवर्क ठप्प हो गया। मज़दूरों की 24 घंटे की हड़ताल के कारण लंदन अंडरग्राउंड मेट्रो नेटवर्क भी बंद कर दिया गया।

हड़ताल का नेतृत्व करने वाली यूनियनों, नेशनल यूनियन ऑफ रेल, मैरीटाइम एंड ट्रांसपोर्ट वर्कर्स (आर.एम.टी.) ने एक लंबी कार्य योजना की घोषणा की है, जिसमें हर मंगलवार, गुरुवार और शनिवार को हड़ताल दोहराई जाएगी। यूनियन ने कहा है कि जब तक सरकार उनकी मांगों पर सहमति नहीं देती तब तक हड़ताल जारी रहेगी।

रेल मज़दूरों के सभी वर्गों ने हड़ताल में भाग लिया, जिनमें सफाईकर्मी भी शामिल हैं, जिन्हें बेहद कम वेतन दिया जाता है। जीवन यापन की बढ़ती लागत से निपटने के लिए रेलकर्मी वेतन वृद्धि के लिए संघर्ष कर रहे हैं। ब्रिटेन में मुद्रास्फीति पिछले चालीस वर्षों में अपने उच्चतम स्तर पर है और लगातार बढ़ रही है।

हड़ताली रेल मज़दूर, काम करने की बेहतर स्थिति और सुरक्षित नौकरी के लिए भी संघर्ष कर रहे हैं। कोविड-19 महामारी ने कई रेल सेवाओं को बंद कर दिया था। अधिकारियों ने कई मज़दूरों को नौकरी से निकाल दिया है, साथ ही साथ बाकी बचे कर्मचारियों पर काम के बोझ को बढ़ा दिया है।

Berwick_protestरेल सेवाएं चलाने वाली कंपनियों ने केवल 3 प्रतिशत की वृद्धि की पेशकश की है, जबकि ब्रिटेन में मुद्रास्फीति की दर वर्तमान में 9 प्रतिशत बताई जा रही है। रेल मज़दूरों की यूनियन ने रेल कर्मियों के घटते वेतन की समस्या के लिए सरकार के ‘परिवहन मितव्ययिता’ कार्यक्रम के हिस्से के रूप में सरकार के बजट में 49 करोड़ पौंड की कटौती को ज़िम्मेदार ठहराया है। यूनियन ने ओवरग्राउंड ट्रेन ऑपरेटरों तथा लंदन अंडरग्राउंड जो कि अंडरग्राउंड रेल नेटवर्क को चलाता है, दोनों का मुद्रास्फीति के नीचे वेतन वृद्धि के प्रस्तावों को स्वीकार करने से इनकार कर दिया है।

यूनियनों की मांगों में शामिल है सुरक्षित नौकरियां, बेहतर वेतन, काम की जगह पर सुरक्षा। मज़दूर मांग कर रहे हैं कि ट्रैक की उचित निगरानी और रखरखाव हो। वे ट्रेनों में से गार्ड को हटाने और लागत में कटौती के नाम पर 1000 टिकट कार्यालयों को बंद करने की योजना का विरोध कर रहे हैं।

ब्रिटिश रेल कर्मचारियों की हड़ताल ब्रिटेन के मेहनतकश लोगों की नौकरियों, वेतन और काम की परिस्थितियों पर हमलों के ख़िलाफ़ संघर्ष का हिस्सा है।

Share and Enjoy !

Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *