आन्ध्र प्रदेश के सरकारी कर्मचारियों की मांगें पूरी हुईं

सरकार द्वारा मज़दूरों की अधिकतर मांगों को मानने के बाद, 23 जनवरी, 2011 को आन्ध्र प्रदेश के सरकारी कर्मचारियों ने अपना अनिश्चितकालीन आंदोलन समाप्त कर दिया है। 19 जनवरी को शुरू की गयी अनिश्चितकालीन हड़ताल में दस लाख से भी ज्यादा कर्मचारियों ने भाग लिया। इसे पैन डाउन, टूल डाउन, चॉक

सरकार द्वारा मज़दूरों की अधिकतर मांगों को मानने के बाद, 23 जनवरी, 2011 को आन्ध्र प्रदेश के सरकारी कर्मचारियों ने अपना अनिश्चितकालीन आंदोलन समाप्त कर दिया है। 19 जनवरी को शुरू की गयी अनिश्चितकालीन हड़ताल में दस लाख से भी ज्यादा कर्मचारियों ने भाग लिया। इसे पैन डाउन, टूल डाउन, चॉक डाउन हड़ताल का नाम दिया गया क्योंकि इसमें मेहनतकश लोगों के व्यापक तबकों ने हिस्सा लिया था।
समझौते के अंतर्गत अप्रैल 2011 से सरकार आवास किराया भत्ता और ग्रेजुएटी में बढ़ोतरी करेगी। वह आरोग्यश्री के तहत मेडीकेयर की सुविधा प्रदान करेगी, रिक्त ओहदों को चरणों में भरेगी, शिक्षा क्षेत्र में नौसिखिया अध्यापक पध्दति खत्म करेगी, पंचायत के कर्मचारियों को नियमित करेगी और तेज रफ्तार से अपने आप पदोन्नति करने की पध्दति लायेगी।

Share and Enjoy !

Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published.